क्या आप भी गलत तरीके से खाते हैं पेरासिटामोल, जान लें ये खास बातें नहीं तो हो जाएंगे परेशान – NewsUnfolded

0
Advertisement

Right Use Of Paracetamol: पेरासिटामोल एक ऐसी दवाई है जो आपको भारत के अधिकांश घरों में मिल जाएगी. घर में किसी को भी सर्दी, जुकाम या बुखार हुआ, तो हम भारतीय डॉक्टर को दिखाने से पहले उसे पेरासिटामोल देना उचित समझते हैं. लेकिन क्या हम ऐसा करके सही करते हैं? इससे भी बड़ा सवाल है कि क्या हमें एक मरीज को पेरासिटामोल देने का सही तरीका पता है. अगर यह दोनों चीजें आपको नहीं पता हैं तो यह आर्टिकल पढ़कर आज आप जान जाएंगे कि पेरासिटामोल किसे, कब और कैसे दिया जाता है. इसके साथ ही हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि पेरासिटामोल के साथ और कौन सी ऐसी दवाएं हैं जिन्हें बीमार मरीज को नहीं देना चाहिए.

Advertisement

किन बीमारियों के लिए यूज किया जाता है पेरासिटामोल

आमतौर पर पेरासिटामोल का इस्तेमाल सर्दी, जुखाम, बुखार के लिए करते हैं. इसमें खासतौर पर वायरल फीवर होता है, जिसके लिए हम ज्यादातर पेरासिटामोल इस्तेमाल करते हैं. हालांकि सिरदर्द, मोंच या दांत के दर्द में भी कई बार हम इसका इस्तेमाल कर लेते हैं. दर्द में यह कारगर इसलिए होती है, क्योंकि पेरासिटामोल शरीर के प्रोस्टाग्लान्डिन्स नामक रसायन को प्रभावित करके एक दर्द निवारक की तरह काम करता है. इसी तरह बुखार में जब आपका बदन तप रहा होता है, तब पेरासिटामोल लेने पर वह दिमाग के उस हिस्से के तापमान को कम कर देता है जहां से पूरी बॉडी का टेंपरेचर नियंत्रित होता है.

किन लोगों को नहीं करना चाहिए पेरासिटामोल का इस्तेमाल

News Reels

पेरासिटामोल का इस्तेमाल खासतौर से उन लोगों को बेहद सावधानी से करना चाहिए जिन्हें लीवर या फिर किडनी से संबंधित बीमारियां हैं. इसके साथ ही अगर आप शराब के आदी हैं तब भी आपको बहुत सोच समझकर या फिर डॉक्टर की सलाह पर ही पेरासीटामोल का इस्तेमाल करना चाहिए. वहीं 2 महीने से कम आयु के बच्चों को भी पेरासिटामोल नहीं देना चाहिए. सबसे खास बात यह है कि आप कभी भी 24 घंटे के भीतर पेरासिटामोल की 4 से अधिक खुराक ना लें. अगर कभी ऐसी जरूरत पड़े तो सबसे पहले चिकित्सकीय सलाह लें.

पेरासिटामोल खाने का सही तरीका क्या है

कभी भी आपको खाली पेट पेरासिटामोल नहीं खानी चाहिए. अगर यह दवाई आप खा रहे हैं तो सबसे पहले कुछ ना कुछ खा लें, ताकि आपका शरीर इस दवाई से होने वाली क्रियाओं को संभालने के काबिल बन जाए. अगर आप खाली पेट पेरासिटामोल खा लेते हैं, तो आपके शरीर में गैस बननी शुरू हो जाएगी. हो सकता है आपको एसिडिटी की भी शिकायत हो जाए. इसलिए डॉक्टर भी जब पेरासिटामोल लिखते हैं तो कहते हैं कि इसे नाश्ते और खाने के बाद ही खाया जाए.

किन दवाओं के साथ पेरासिटामोल नहीं लेना चाहिए

हर दवा का अपना एक कंपोजिशन होता है. अगर आप दो तरह की कंपोजिशन वाली दवाएं एक साथ ले लेते हैं तो इससे शरीर में कई तरह की क्रिया प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं. इसलिए अगर आप पेरासिटामोल खा रहे हैं तो उसके साथ यह दवाएं भूलकर भी न खाएं. इनमें हैं –

बुसल्फान (busulfan) जो कैंसर का इलाज करती है.

कार्बामाज़ेपिन (carbamazepine) जो मिर्गी का इलाज करती है.

कोलस्टिरमाइन (colestyramine) जो प्राथमिक बाइल सिरोसिस का इलाज करती है.

डोमपरिडोन (domperidone) जो उलटी से राहत देती है.

मेटोक्लोप्रमाइड (metoclopramide) जो अपच सहित कई ऐसी बीमारियों का इलाज करती है.

हालांकि, यहां लिखी गई सभी बातों को मानने से पहले आपको अपने डॉक्टर से एक बार सलाह जरूर लेना चाहिए. आपकी बीमारी और इन दवाओं के कंपोजिशन के हिसाब से आपके डॉक्टर इस पर आपको बेहतर सलाह दे सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Alia Bhatt Daughter Name : अरबी, बांग्ला और संस्कृत में ये है आलिया भट्ट की बेटी ‘Raha’ के नाम का मतलब

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here